#MeToo: BCCI की महिला शिकायत विभाग प्रमुख ने दिया इस्तीफा

#MeToo: BCCI की महिला शिकायत विभाग प्रमुख ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की महिला शिकायत प्रकोष्ठ की प्रमुख करीना कृपलानी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। गौरतलब है कि बीसीसीआई की प्रशासकों की समिति (सीओए) ने एक दिन पहले ही बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी के खिलाफ यौन उत्पीड़न की जांच के लिए तीन सदस्यीय स्वतंत्र समिति का गठन किया था। अगले दिन अधिवक्ता कृपलानी ने इस्तीफा दे दिया।

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने शुक्रवार को बताया, ‘हां, कटरीना ने आतंरिक शिकायत समिति के प्रमुख पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कोई खास वजह नहीं बताई है।’ जौहरी के खिलाफ सोशल मीडिया में आरोप लगने के बाद समिति गठित की गई थी।

कृपलानी ने इस्तीफे से पहले उस मामले में भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि स्वतंत्र समिति का गठन किए जाने के बाद भी क्या उनका प्रकोष्ठ राहुल के खिलाफ जांच में शामिल रहेगा। स्वतंत्र जांच समिति को 15 दिन में रिपोर्ट देनी है। बीसीसीआई के कार्यकारी अमिताभ चौधरी ने बताया कि मीडिया में आई खबरों के बाद जौहरी के खिलाफ कोई नई शिकायत नहीं आई है।

इस मामले में मुंबई के पूर्व रणजी खिलाड़ी शिशिर हट्टंगडी के कूदने से एक अलग मोड़ आ गया है और यह जौहरी की बीसीसीआई से विदाई का जरिया भी बन सकता है.
दरअसल, मुंबई के लिए 1981-1992 तक 98 मैच खेलने वाले इस खिलाड़ी से एक महिला ने जौहरी से संबंधित मसले पर संपर्क किया था। शिशिर के मुताबिक महिला ने उनसे संपर्क किया और जौहरी की शिकायत की। हालांकि शिशिर ने इस दौरान उस महिला से कहा कि वह अपनी शिकायत लिखित में दे और उसने वैसा ही किया। जबकि वह कोर्ट या फिर कमेटी के सामने अपनी गवाही देने के लिए भी तैयार है।

57 वर्षीय शिशिर ने ट्विटर पर जौहरी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए लिखा, ‘यह जौहरी और उनके जैसे लोगों की बात नहीं बल्कि यह विश्‍व मंच पर बीसीसीआई के सम्‍मान की बात है। कोई भी व्‍यक्ति खेल से ऊपर नहीं हो सकता। सीज़र की वाइफ को संदेह से ऊपर होना चाहिए, संदेह तो है!’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *